Award

अनुसंधान परियोजनायें

  1. आईपीएम मॉड्यूल का संश्लेषण और सत्यापन:धान, कपास, सब्जियां , दालें, तिलहन , संरक्षित खेती , सूत्रकृमि
  2. डाटा बेस व सूचना प्रणाली
  3. कीट के पूर्वानुमान और वितरण नक्शे
  4. सामाजिक, आर्थिक और प्रभाव का विश्लेषण
  5. मानव संसाधन विकास में आईपीएम
अनुसंधान कार्यक्रम I :
स्थान विषेश के लिए आई.पी.एम मॉडयूल्स व विभिन्न कृषि पारिस्थयी क्षेत्रो की प्रमुख उत्पादन पद्दति के लिए तकनीकों हेतू राष्ट्रीय नेटवर्क की स्थापना करना
क्र. सं.
परियोजना का शीर्षक
प्रधान अन्वेषक एवं सहयोगी
धान
1.
बासमती चावल आधारित फसल प्रणाली में आईपीएम का वैधीकरण और प्रोत्साहन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ आर. के. तवंर
सहयोगी: 
डॉ सत्येन्द्र सिंह
डॉ मुकेश खोखर
श्री विकास कंवर
श्री राकेश कुमार
एस. पी. सिंह
2.
धान की सीधी बुआई में आईपीएम संश्लेषण एवं वैधीकरण
प्रधान अन्वेषक:
श्री राकेश कुमार
सहयोगी: 
डॉ आर. के. तंवर
डॉ मुकेश सहगल
डॉ मुकेश खोखर
श्री विकास कंवर
श्री एस. पी. सिंह
3. देश के विभिन्न कृषि जलवायु क्षेत्रों में चावल और सब्जियों की फसलों में नेमाटोड हॉटस्पॉट्स के लिए आईपीएम रणनीतियों का सत्यापन और संवर्धन (शिमोगा)
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
4.
चावल आधारित फसल प्रणाली के सूक्ष्मजीवों के साथ कीटों, प्राकृतिक दुश्मनों और रोगजनकों की गतिशीलता
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश खोखर
सहयोगी: 
डॉ आर. के. तंवर
डॉ मुकेश सहगल
डॉ सत्येन्द्र सिंह
श्री विकास कंवर
श्री राकेश कुमार
श्री एस. पी. सिंह
कपास
1. कपास में उभरने वाले नाशीजीवों के लिए आईपीएम कार्यनीतियों का संश्लेषण एवं वैधीकरण
प्रधान अन्वेषक:
डॉ अजंता बिराह
सहयोगी: 
डॉ आर. के. तंवर
डॉ अनूप कुमार
डॉ मुकेश सहगल
श्री एस. पी. सिंह
2. सफ़ेद मक्खी की प्रमुखता को ध्यान में रखते हुए कपास-गेहूं-किन्नो आधारित फसल प्रणाली के तहत कपास में आईपीएम का विकास, सत्यापन और प्रोत्साहन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ अनूप कुमार
सहयोगी: 
डॉ आर. के. तंवर
डॉ अजंता बिराह
डॉ मुकेश खोखर
श्री एस. पी. सिंह
सब्जियां
1. कद्दु वर्गीय फसलों के लिए आईपीएम के मान्यकरण
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच.आर. सरदाना
सहयोगी: 
डॉ एम. एन. भट
डॉ अनूप कुमार
श्री मनोज चौधरी
2. बल्बनुमा सब्जी और फसलों के लिए आईपीएम की मान्यता
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच.आर. सरदाना
सहयोगी:
डॉ एम. एन. भट
डॉ अनूप कुमार
श्री मनोज चौधरी
3. टमाटर की फसल प्रणाली में समेकित कीट प्रबंधन की मान्यता और प्रचार
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
सहयोगी:
डॉ सुमित्रा अरोड़ा
4. अर्ध-शुष्क (पंजाब और राजस्थान) और भारत के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के तहत मंदारिन बागों के लिए आईपीएम रणनीतियों का विकास और सत्यापन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ डी बी आहूजा
सहयोगी:
डॉ जितेंद्र सिंह
5. राजस्थान के आदिवासी क्षेत्र में सब्जी उत्पादन प्रणाली के तहत आईपीएम मॉड्यूल को बढ़ावा देना
प्रधान अन्वेषक:
डॉ सत्येंद्र सिंह
सहयोगी:
डॉ आर.के. तंवर  
डॉ मुकेश खोखर
श्री विकास कंवर
श्री एस पी सिंह
6. अमरूद की फसलों में आईपीएम प्रौद्योगिकियों का सत्यापन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच.एस. सिंह
7. जनजातीय कृषक सहभागिता मोड (टीएस पी) के साथ विभिन्न फसलों में आईपीएम की मान्यता और संवर्धन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
दालें
1.
अरहर और चना की जलवायु परिवर्तन प्रेरित कीट के लिए आईपीएम रणनीतियों के विकास
प्रधान अन्वेषक:
डॉ जितेंद्र सिंह
 
संरक्षित खेती
1.
संरक्षित संवर्धन के तहत कीट प्रबंधन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ सत्येंद्र सिंह
सहयोगी:
डॉ आर.के. तंवर
श्री मनोज चौधरी
श्री एस.पी. सिंह
तिलहन
1.
मूँगफली की फसल के लिए समेकित नाशीजीव प्रबंधन का संश्लेशण, वैधीकरण तथा प्रचार-प्रसार
 
प्रधान अन्वेषक:
डॉ सुरेन्द्र कुमार सिंह
सह प्रधान अन्वेषक/सहयोगी:
डॉ एम.एस. यादव
श्री राकेश कुमार
डॉ नसीम अहमद
2.
प्राथमिकता के आधार पर घटक-वार आईपीएम पैकेज भारतीय सरसों में प्रौद्योगिकियों का विकास और वैद्यीकरण
 
 
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एम.एस. यादव
सहयोगी:
डॉ सुरेन्द्र कुमार सिंह
डॉ मुकेश खोखर
डॉ नसीम अहमद
श्रीमती नीलम मेहता
जैव नियंत्रण
1. डीबीटी ट्विनिंग सहयोग परियोजना- "एन ई के लिए डीबीटी के कार्यक्रम के तहत विषम कीट विशिष्ट विषाक्त पदार्थों को व्यक्त करने के लिए इंजीनियरिंग एंटोमोपाथोजेनिक कवक, मेथेरिज़ियम एनिसोप्लाय और ब्यूवरिया बेसियाना"
प्रधान अन्वेषक:
डॉ अनूप कुमार
2. विभिन्न कृषि-जलवायु क्षेत्रों में माइक्रोबियल बायोपेस्टीसाइड के स्थानीय उपभेदों के कृषि उत्पादन के लिए प्रौद्योगिकियों का विकास और संवर्धन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ जितेंद्र सिंह
सह प्रधान अन्वेषक/सहयोगी:
डॉ नसीम अहमद
3. नवीन आईपीएम गैजेट्स और तकनीकों का विकास और सत्यापन प्रधान अन्वेषक:
डॉ सुरेन्द्र कुमार सिंह
सूत्रकृमि
1.
धान और सब्जियों की फसलों में सूत्रकृमि हॉटस्पॉट के लिए आईपीएम रणनीतियों का सत्यापन और प्रचार
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल  
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच आर सरदाना
डॉ सुमित्रा अरोड़ा
2. त्रिपुरा में चावल और सोलानेसीअस फसलों में आईपीएम मॉड्यूल का वैधीकरण एवं प्रोन्नयन (जनजातीय उप-योजना)

 

प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
सह प्रधान अन्वेषक :
डॉ अजंता बिराह
श्री विकास कंवर
श्री निरंजन सिंह
अनुसंधान कार्यक्रम - II:
प्रमुख कीटों के लिए डाटाबेस का विकास एवं इलैक्ट्रोनिक नेटवर्किंग
1. हरियाणा में बागवानी फसलों के लिए आईसीटी आधारित निगरानी और सलाहकार सेवाएं
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच आर सरदाना
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ एम एन भट्ट
श्री निरंजन सिंह
श्री मनोज चौधरी
2. फसल कीट निगरानी और सलाहकार परियोजना (क्रॉपसैप - बागवानी) - महाराष्ट्र
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच आर सरदाना
सह प्रधान अन्वेषक:
श्री निरंजन सिंह
3.
चयनित सब्जी फसलों के लिए मोबाइल आधारित कीट प्रबंधन सूचना प्रणाली का विकास
 
प्रधान अन्वेषक:
श्री निरंजन सिंह
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ एच आर सरदाना
4. आम के लिए निर्णय समर्थन प्रणाली का विकास
प्रधान अन्वेषक:
सुश्री मीनाक्षी मलिक
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
डॉ अशोक कुमार कनौजिया
डॉ आर.वी. सिंह
5. त्रिपुरा क्षेत्र (एनईएच), भारत में चावल के लिए सलाहकार प्रणाली के माध्यम से आईसीटी आधारित कीट निगरानी और प्रबंधन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
सह प्रधान अन्वेषक:
श्री निरंजन सिंह
डॉ अजंता बिराह
श्री विकास कंवर
6.
फसल कीट निगरानी और सलाहकार परियोजना (क्रॉपसैप) - महाराष्ट्र
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एस. वेण्णिला
सह प्रधान अन्वेषक:
श्री निरंजन सिंह
अनुसंधान कार्यक्रम III:
राष्ट्रीय महत्व के कीटों के लिए पूर्वसूचना एवं पूर्वानुमान मॉडलों का विकास
1. एकीकृत प्रबंधन के लिए स्थानिक पैमाने पर प्रमुख फसलों में कीटों का पूर्वानुमान
प्रधान अन्वेषक:
डॉ (श्रीमती) अजंता बिरहा
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ आर.के. तंवर
डॉ एम.एस. यादव
डॉ अशोक कुमार कनौजिया
श्री राकेश कुमार
2. कीट परिवर्तन के तहत कीटों और रोगों की मॉडलिंग और कीट प्रबंधन के लिए डिजिटल उपकरणों का विकास
  जलवायु अनुरूप कृषि (NICRA) पर राष्ट्रीय पहल
प्रधान अन्वेषक:
डॉ एस. वेण्णिला
सह प्रधान अन्वेषक:
श्री निरंजन सिंह
डॉ एम एन भट्ट
अनुसंधान कार्यक्रम IV:
आई. पी.एम. तकनीक प्रभाव का सामाजिक व आर्थिक विश्लेषण
1.
धान में आई.पी.एम. तकनीक के सामाजिक आर्थिक पहलुओं और प्रभावी मूल्याकंन का अध्यन
प्रधान अन्वेषक:
श्री विकास कंवर
2. दाल, गेहूं, चावल और कॉफी बीन्स के भंडारण कीटों के खिलाफ फॉस्फीन फ्यूमिगेंट की प्रभावकारिता; और संगरोध और दीर्घकालिक भंडारण उद्देश्य के लिए अवशेष विश्लेषण (डीएसी प्रायोजित)
प्रधान अन्वेषक:
डॉ सुमित्रा अरोड़ा
3. भारत में प्रमुख फसल नाशीजीवों के लिए पादप संयंत्र आधारित जैव-सक्रिय यौगिकों का अलगाव, शुद्धिकरण और सत्यापन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ सुमित्रा अरोड़ा
सह प्रधान अन्वेषक:
डॉ मुकेश सहगल
अनुसंधान कार्यक्रम V:
कृषि विस्तार
आई.पी.एम में मानव संसाधन विकास (जारी)
1. उत्तर प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र की चयनित सब्जी आधारित फसली प्रणाली में भरोसेमंद आईपीएम तकनीक का प्रसार
प्रधान अन्वेषक:
डॉ आर वी सिंह
2. चयनित सब्जी फसलों में आईपीएम प्रौद्योगिकियों के अंगीकरण में बाधाओं का अध्ययन
प्रधान अन्वेषक:
डॉ आर वी सिंह
सहयोगी:
डॉ एस. वेण्णिला
डॉ ए.के. कनौजिया
सुश्री मीनाक्षी मलिक
श्री मनोज चौधरी
डॉ नसीम अहमद
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न    रोजगार के अवसर      अस्वीकरण      साइट मैप     वेबसाइट नीतियाँ    

यह वेबसाइट राष्ट्रीय समेकित नाशीजीव कीट प्रबंधन अनुसंधान केंद्र,
कृषि अनुसंधान और शिक्षा, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के विभाग के तहत एक स्वायत्त संगठन के अंतर्गत आता है।

यह वेबसाइट एग्रीकलचर नोलेज मेंनेजमेन्ट यूनिट (ए.के.एम.यू.) द्वारा विकसित व देखरेख की जा रही है।